उत्तराखंड में डेंगू का प्रकोप जारी

ख़ास बात:

  • पूरे प्रदेश में जहाँ 1400 से ज्यादा लोग डेंगू की चपेट में आ चुके हैं, अकेले राजधानी देहरादून में अब तक 900 के करीब डेंगू के मरीज़ हैं।
  • इस साल पिछले 4 सालों की तुलना में सबसे ज्यादा मरीज सामने आये हैं।

देहरादून: उत्तराखंड में जहाँ डेंगू का कहर जारी है तो दूसरी तरफ स्वास्थ्य विभाग में बैठकों का दौर भी। पूरे प्रदेश में जहाँ 1400 से ज्यादा लोग डेंगू की चपेट में आ चुके हैं, अकेले राजधानी देहरादून में अब तक 900 के करीब डेंगू के मरीज़ हैं। ये आंकड़ा दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है। राजधानी के सरकारी अस्पतालों में अलग से बने डेंगू वार्डों मे डेंगू के मरीज़ों की भारी भीड़ है। अस्पताल में बैड की सँख्या को भी बढ़ा दिया गया है व स्वास्थ्य विभाग घर-घर जा कर लोगो को जागरूक कर रहा है। साथ ही नगर निगम हर स्थान पर फॉगिंग कर रहा है फिर भी डेंगू पर फ़िलहाल रोकथाम लगती नही दिख रही और इसके मरीज दिन प्रतिदिन बढ़ने में लगे हुए डेंगू की बढ़ती समस्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की एक विशेष डॉक्टरों की टीम उत्तराखंड पहुँच चुकी है।

गौरतलब है कि इस साल पिछले 4 सालों की तुलना में सबसे ज्यादा मरीज सामने आये हैं। इस वर्ष राजधानी देहरादून में 870, तो नैनीताल में 310, हरिद्वार में 39, उधमसिंह नगर में 14, टिहरी में 13 तो पौढ़ी में 1 मरीज की पुष्टि हुई है तो 7 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। हालाँकि ये आंकड़े सिर्फ सरकारी अस्पतालों के है ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि डेंगू उत्तराखंड में किस तरह पैर पसार रहा है।

दून में डेंगू के बढ़ते मामलों और प्रदेश में तेजी से फैल रहे वायरल बुखार के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की एक वरिष्ठ डाक्टर्स की टीम उत्तराखंड में डेरा जमाए हुई है और लोगों को लगातार इससे बचने के उपाय बता रही है। वरिष्ठ चिकित्सकों ने लोगों से आग्रह किया कि डेंगू और वायरल बुखार से घबराने की आवश्यकता नहीं है…..इन बिमारियों से बचने के लिए लोग सतर्क रहे….और विशेषज्ञ डॉक्टरों की सलाह से ही उपचार कराए।

स्वास्थ्य विभाग की माने तो डेंगू के केस लगातार आ रहे हैं और हर बुखार डेंगू नहीं है कुछ केस वायरल और टायफाइड के भी आ रहे हैं और जैसे ही विभाग पर लोड बढ़ रहा है  तो जांच की सुविधाएं भी बढ़ा दी गयी है और जल्द ही इनकी सँख्या में इजाफा किया जाएगा जिससे कि मरीजो को ज्यादा देर इंतजार ना करना पड़े।

हालांकि बढ़ती डेंगू की महामारी पर कॉग्रेस जमकर सरकार को कोस रही है । कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने सरकार के आंकड़ों को धत्ता बताते हुए कहा की सरकार गलत आंकड़े पेश कर रही है । पुरे देहरादून सहित कई जगहों पर लोगों की मौत हो रही है । कोई कोना देहरादून का ऐसा नहीं हे जहां हर घर में डेंगू के मरीज सामने न आ रहे हों खुद सीएम की  विधानसभा में डेंगू से एक व्यक्ति की मौत तक हो चुकी है । दून अस्पताल सहित राजधानी देहरादून के अस्पताल डेंगू के मरीजों से भरे पड़े है । आज 10 हजार से ज्यादा लोग डेंगू से पीड़ित हैं और 50 के लगभग लोगों की मौत हो चुकी हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *