हैरतंगेज़: सांपों का सरताज है ये मोटर मैकेनिक गुलज़ार

गुलज़ार का कहना है कि वो सांप इसलिए पकड़ता है, ताकि सांप से किसी इंसान को कोई हानि न पहुँच पाये और इंसानों द्वारा कोई सांप न मारा जाए।

ख़ास बात:

  • सांपों का सरताज है ये मोटर मैकेनिक गुलज़ार
  • दस वर्षों में पकड़े हैं दस हजार सांप
  • नहीं छोड़ता साँप पकड़ने का कोई मौका
  • सांप कितना भी जहरीला हो या हो हठीला
  • फिर पकड़ा खतरनाक स्पेक्टिकल कोबरा

सितारगंज, उधम सिंह नगर: ये खतरनाक है – इस खबर के विडियो को देखने वाले गलती से भी इस तरह की कोई कोशिश न करें। इस खबर के विडियो में जो सांप है वो है इंडियन स्पेक्टेकल्ड कोबरा जिसे गुलज़ार खान ने सितारगंज क्षेत्र के बाघोरा स्थित गुलमोहर कॉलोनी के एक मकान से पकड़ा है। इससे पहले बीते कुछ दिन पूर्व ही गुलज़ार ने ‘रसेल वाइपर’ नाम का खतरनाक सांप भी पकड़ा था।

सितारगंज में रहने वाला गुलज़ार नाम का ये शख्स वैसे तो एक मोटर मैकेनिक की दुकान पर काम करके अपनी आजीविका चलाता है। लेकिन अपने गुरु से सीखी हुई सांप पकड़ने की विद्या से समाज सेवा कार्य भी करता है। गुलज़ार का कहना है कि वो सांप इसलिए पकड़ता है, ताकि सांप से किसी इंसान को कोई हानि न पहुँच पाये और इंसानों द्वारा कोई सांप न मारा जाए।

गुलज़ार की सांप पकड़ने की कला इस क्षेत्र में लगभग सभी के सामने आ चुकी है यही कारण है कि यदि किसी के भी घर सांप निकलता है तो वो गुलज़ार को बुलाकर सांप पकड़वाते हैं और फिर सांप को पकड़कर जंगल मे सुरक्षित स्थान पर छोड़ दिया जाता है। यहाँ तक कि वन विभाग भी गुलज़ार की सहायता से कई सांप पकड़वाकर जंगलों में छुड़वा चुका है।

लेकिन एक बात हैरान करने वाली है कि इतने जहरीले साँपों को ये आखिर वश में कैसे करते हैं। गुलज़ार का कहना है कि – “मेरे गुरु ने मुझे ये विद्या सिखाते समय एक बात कही थी कि कभी किसी सांप को मारना मत वरना इसके प्रकोप से तुम्हे बहुत बड़ा नुकसान हो जाएगा।” इसलिए चाहे कुछ भी हो लेकिन गुलज़ार सांप को ज़िंदा ही पकड़कर सुरक्षित स्थान पर छोड़ कर आते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ये भी पढ़ें